business template

सभी नियोक्ताओं से अपेक्षा की जाती है कि वें तत्काल ईसीआर पोर्टल पर मालिकाना विवरण दर्शाते हुए फॉर्म 5-ए भरें ।
2017-09-22

प्रपत्र भरने के लिए निर्देश

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन को आवेदन करते समय सदस्य के लिए अनुदेश -

सामान्य :

भविष्य निधि, पेंशन प्रत्याहरण लाभ/योजना प्रमाण पत्र, कर्मचारी निक्षेप सहबद्ध बीमा लाभ इत्यादि का
दावा करने के लिए निम्नानुसार उचित प्रपत्रों का प्रयोग करें -

  • प्रपत्र-19 :

  • सदस्य द्वारा भविष्य निधि के अन्तिम भुगतान हेतु दावा।


  • प्रपत्र -20 :

  • सदस्य की मृत्यु के उपरान्त नामिती/वैध उत्तराधिकारी द्वारा भविष्य निधि का दावा।


  • प्रपत्र -10डी :

  • पेंशन के दावा हेतु (दो प्रतियों में यदि राज्य के भीतर हैं, तीन प्रतियों में यदि राज्य के बाहर हैं)।


  • प्रपत्र -10सी :

  • कर्मचारी पेंशन योजना,1995 के अन्तर्गत प्रत्याहरण लाभ/ योजना प्रमाण पत्र का दावा।


  • प्रपत्र -5 आई.एफ :

  • कर्मचारी निक्षेप सहबद्ध बीमा योजना, 1976 के अन्तर्गत नामांकित/सदस्य के वैध उत्तराधिकारी द्वारा बीमा लाभ का दावा।


  • परपत्र -31 :

  • कर्मचारी भविष्य निधि योजना, 1952 के अन्तर्गत अस्थायी आहरण/अग्रिम का दावा।


  • प्रपत्र -13 :

  • भविष्य निधि/पेंशन को एक खाते से दूसरे खाते में अंतरित करने के लिए।

यह सुनिश्चित करें कि आवेदन प्रपत्र के सभी कॉलम पूरी तरह भरे जाएं।

आवेदन में नाम, खाता संख्या आदि सूचनाएं जो नियोक्ता द्वारा भविष्य निधि में नामांकन के समय दी गई थी, से मेल खानी चाहिए।

आवेदन सदस्य/दावाकर्ता के द्वारा हस्ताक्षरित होना चाहिए।

इसे पूर्व नियोक्ता द्वारा सत्यापित किया जाना चाहिए। यदि पूर्व नियोक्ता द्वारा सत्यापन संभव नहीं है तो आवेदन फॉर्म में उल्लिखित किसी अन्य प्राधिकृत अधिकारी द्वारा सत्यापन किया जाना चाहिए।

सेवा छोड़ने की तिथि से दो माह पूरे होने पर ही सदस्य द्वारा अन्तिम निपटान के लिए आवेदन भेजा जा सकता है यदि वार्धक्यता, चिकित्सा आधार, छंटनी तथा स्वैच्छिक सेवा निवृत्त तथा महिला सदस्यों का विवाह इत्यादि के अतिरिक्त सेवा त्याग का कारण हो।

यदि राशि रु.2000/- से अधिक है तो भुगतान की प्रक्रिया स्पष्ट रुप से दी जानी चाहिए। आदाता के बैंक खाते में राशि भेज दी जाएगी। इसे सरलता पूर्वक करने के लिए, बैंक खाता संख्या, नाम, बैंक का पता दिया जाना चाहिए। इस आवेदन के साथ एक अग्रिम स्टाम्प रसीद भी संलग्न होनी चाहिए।

आवेदन के साथ रिटर्न फॉर्म 10 भी दिया जाना चाहिए जिसमें सेवा छोडने का विवरण हो तथा फॉर्म 3ए जिसमें वर्ष में जमा किये गए अंशदान का विवरण दिया जाना चाहिए, यदि ये नियोक्ता द्वारा पहले नहीं दिया गया है।

अतिरिक्त विशिष्ट आवश्यकताएं-

(क) मृत्यु प्रकरण :-


नामिती/वैध उत्तराधिकारी को प्रपत्र-20/प्रपत्र-10 डी/प्रपत्र-5 आई.एफ. में आवेदन करना चाहिए।

यदि सदस्य ने कोई नामांकन नहीं दिया है तो नियोक्ता द्वारा जारी परिवार के सदस्यों से संबंधित प्रमाण पत्र /राजस्व अधिकारी/परिवार के सदस्य के द्वारा निष्पादित शपथ पत्र/न्यायालय द्वारा जारी वैधानिक प्रमाण पत्र के साथ आवेदन किया जाना चाहिए।

सदस्य का मृत्यु प्रमाण पत्र नियोक्ता द्वारा जारी प्रमाण पत्र में यह स्पष्ट होना चाहिए कि सदस्य की मृत्यु सेवा में रहते हुए हुई है अथवा नहीं-

(ख) पेंशन प्रकरण :-

आवेदन के साथ सदस्य/जीवन साथी अथवा दावेदार का संयुक्त छायाचित्र संलग्न होना चाहिए

पूँजी की वापसी/रूपांतरण का विकल्प, स्पष्ट रूप से इंगित होना चाहिए।

सेवा के दौरान अंशदान प्राप्त न होने की अवधि का विवरण, मजदूरी/वेतन के विगत 12 माह का विवरण, यदि पूर्व में प्रदान न किया गया हो तो आवेदन के साथ संलग्न किया जाना चाहिए।

विशेषीकृत बैंक शाखा से संबंधित विवरण स्पष्ट रुप से प्रदान करें।

बच्चों का जन्म प्रमाण पत्र

सेवा से पृथक होकर मृत्यु होने की दशा में पेंशन का दावा प्रस्तुत करने वाले दावेदार से इस आशय का प्रमाण पत्र कि सदस्य कहीं कार्य नहीं कर रहा था/उस स्थापना से सेवात्याग के पश्चात् दूसरी किसी व्याप्त स्थापना में कार्यरत नहीं था।

आपके प्रश्न

सूचना का अधिकार अधिनियम 2005